Sunday, October 17

नोटबंदी पर धरना रखने वाले सांसद पर राष्ट्रपति ने नाराजगी जताई !

कल तारीख ८ दिसम्बर को नोटबंदी के एक महीने पुरे हो गए। लेकिन विपक्ष के नेता थमने का नाम ही नही ले रहे वो लगातार सरकार को कठघरे में खरा कर रहे है। मूद्दे की बात ये है की कल राहुल गाँधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निसाना साधते हुए कहा की उन्होंने बिना किसी से विचार विमर्ष किये इतना बड़ा फैसला ले लिया। जिससे देश के किसान से लेकर छोटे वर्ग के लोग काफी परेशान हो रहे है। उन्होंने कहा की प्रधानमंत्री अपने लिए गए फैसले से मुस्कुरा रहे है और देश की जनता उस फैसले से बुरी तरह परेसान है।

18112016133749

राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने सांसदों को दी  नसीहत :-

अभी हाल ही में संसद का शीतकालीन सत्र आरंभ हुआ है लेकिन पिछले १७ दिनों से लगातार विपक्ष द्धारा नोटबंदी के मुद्दे पर संसद की कार्यवाही स्थगित हो रही है। इस मुद्दे पर गुरुवार को राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने डिफेन्स एस्टेट्स ऑर्गेनाइजेशन की बैठक को संबोधित करते हुए अपनी नाराजगी जताई और उन्होंने देश के सभी सांसदों को नसीहत दी की वो अपना अपना काम करे ना की संसद के काम में बाधा डाले। उन्होंने कहा की सभी सांसदों को सरकार द्धारा लिए गए किसी निर्णय पर अपनी नाराजगी जताने का पूरा पूरा अधिकार है लेकिन उन्हें संसद की कार्यवाही ठप करने का कोई अधिकार नही है।
parliament

विपक्षी पार्टियों द्धारा नोटबंदी पर विरोध जारी  :-

हम आपको बता दे की पिछले १७ दिनों से संसद में विपक्ष के नेताओ द्धारा हंगामा करने से संसद की कार्यवाही ठप है। सरकार द्धारा नोटबंदी का निर्णय लिए जाने के बाद विपक्षी दलों ने इसका विरोध अलग अलग तरीको से किया लकिन उन्हें जब कोई सफलता नही मिली तो उन्होंने संसद में हंगामा करना शुरू कर दिया। जिसके कारन कल राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी को इस विषय पर बोलना पड़ा। कुछ दिन पहले तो नोटबंदी का विरोध करते हुए सारी विपक्षी दलों ने भारत बंद का एलान किया था। लेकिन ये फॉर्मूला भी फ्लॉप रहा।

62 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *