Sunday, May 27

रैनसमवेयर की हुई वापसी : भारत पर भी हो सकता है इसका ख़तरा 

Ransomware एक प्रकार का वायरस है जो दुनियाभर के कई देशों को अपने चपेट में ले लिया है | यह virus इतना खतरनाक है कि रूस , यूक्रेन जैसे देशों  में बहुत बुरी तरह से साइबर अटैक करके रखा है| और अब इसका भारत पर भी खतरा मँडराता हुआ नजर आ रहा है |  कहा जा रहा है कि भारत पर भी इसका अटैक हुआ है पर गुलशन राय, जो भारत के साइबर सुरक्षा एजेंसी के प्रमुख  ( head ) हैं , ने अभी इस बात से इंकार कर दिया है |

what is ransomware
रैनसमवेयर का यूक्रेन पर बुरा असर :-
पिछले साल ऐसा ही एक वायरस ‘पेटवा’ के नाम से आया था पर यह रैनसमवेयर इससे भी ज्यादा खतरनाक है | आईटी विशेषज्ञों के अनुसार यह एक प्रकार का ‘गोल्डन-आई’ है | यूक्रेन में जहां  एक ओर इलेक्ट्रॉनिक चीजें ख़राब हो रहीं  हैं  वहीं  दूसरी ओर सेंट्रल बैंक , विमान निर्माता कंपनी एंटोनोव  और डाक सेवाएं भी इसके खतरे का शिकार हुई हैं | बैंक के कंप्यूटर सिस्टम में बड़ी गड़बड़ी पायी गयी है | इसकी राजधानी कीव की मेट्रो में कार्ड एक्सेप्ट नहीं हो रहे हैं | साथ  ही साथ पेट्रोल पम्प भी सही तरीके से काम नहीं क्र रहे हैं|
फ्रांस पर भी भारी पड़ा :-
एक यूनिवर्सिटी के प्रोफ़ेसर ऐलन वुडवर्ड के अनुसार  यह Ransomware 2016 की शुरुआती में आया था | जबकि इसका पहला प्रभाव अमेरिका में 2005 में पाया गया |  यह वायरस न केवल फाइल को एन्क्रिप्ट कर देती है बल्कि ऑपरेटिंग सिस्टम के किसी एक हिस्से पर अटैक करके एक मास्टर फाइल टेबल (MFT) बनता है | जो किसी प्रकार का अड़चन देखकर सारी फाइल को लॉक कर देता है | ट्वीटर पर यूक्रेन के उप-प्रधानमंत्री ने लिखा- ” कैबिनेट मंत्री के सचिवालय में नेटवर्क डाउन है | “
ransomeware bitcoin
सिस्टम की फाइल्स को अनलॉक करने के लिए हैकर्स ने 300 डॉलर बिटकॉइन की मांग की है | आपको बता दे कि एक बिटकॉइन की कीमत लगभग 1710 डॉलर है |
कैसे काम करता है यह रैनसमवेयर:-
यह virus एक-एक फाइल को लॉक या एन्क्रिप्ट न करके डायरेक्ट एक ही बार में हार्डडिस्क पर अटैक करके उसको लॉक केर देता है | और बिना किसी माध्यम के ही एक मशीन से दूसरे मशीन तक पहुँच जाता है | यह वायरस ईमेल द्वारा फैलता है |
Malwarebytes-antiransomware
बचने के तरीके :-
कंप्यूटर में एंटीवायरस डालें |
unknown source से आये mail को ओपन न करें |
अज्ञात ई-मेल में आये अटैच्ड फाइल या लिंक को ओपन न करें |
अपना पासवर्ड स्ट्रांग रखें |
0Shares

31 Comments

Please wait...

Subscribe to our newsletter

Want to be notified when our article is published? Enter your email address and name below to be the first to know.