Friday, November 24

आपबीती के जरिये बाल विवाह से पीड़ित महिलाओं ने सुनाई अपनी दास्ताँ ( Aap Beeti )

APP BEETI महिला उत्पीड़न पर आधारित एक कार्यक्रम है | APP BEETI कार्यक्रम में उन महिलाओं से बातचीत की गई जिन्होंने मानसिक और शारीरिक यातनाएँ झेली हैं | बाल विवाह से पीड़ित महिलाओं ने इस कार्यक्रम के जरिये अपने अंदर के दर्द को बयाँ किया है| आपबीती कार्यक्रम  महिलाओं ने यह बताया है कि कैसे उनके पति और ससुराल वाले परेशान करते थे और मारते पीटते थे | कई महिलाओ को अपने पति के एक्स्ट्रा मैरिटल के अफेयर का भी सामना करना पड़ा है | तो आइये जानते है आपबीती में बात की गयी  औरतों के बारे में –

साल भर के अंदर पति की हुई मौत :-
15 साल की उम्र में रिज़वाना की शादी उसके पड़ोस के ही एक लड़के से हो गयी | पर बीमारी के कारण एक साल में ही उसके पति की मौत हो गयी | उस समय वह गर्भ धारण कर चुकी थी | उसके ससुराल वालो ने बिना कुछ सोचे उसे 10 हजार रुपये दिया और घर से बाहर निकल दिया | इस घटना को हुए 9 साल हो गए हैं | मायके में आने के बाद गुजारा करने के लिए साड़ी में डि‍जाइनिंग का काम किया  था | आज उसका 9 साल का बच्चा है पर उसकी अपनी कोई पहचान नहीं है | ससुराल वाले उस बच्चे क अपना वारिस नहीं मानते हैं |
aap beeti women pain after marriage
पति का दूसरी लड़की के साथ था चक्कर :-
पूनम की शादी तब हुई थी जब वह महज 16 साल की थी। इस उम्र में उसे बस यही पता था कि वह अब किसी की बहु और बीवी है | लेकिन शादी के बाद ससुराल में उसकी एक भी कदर नहीं हुई | प्यार और सम्मान के बजाए पति की मार और डाँट सुनने को मिलती थी | Aap Beeti  में पूनम ने बताया कि जब उसने पति के इस तरह के व्यवहार की छान बीन की तो पता चला कि उसका पहले से ही किसी दूसरी लड़की के साथ सम्बन्ध है | इस घटना को हुए डेढ़ साल हो गए थे | पता चलते ही उसने पति को छोड़ कर अपने मायके वापस आ गयी | और अब तलाक की माँग कर रही है |

ऐसी ही कई अन्य महिलाएं है जिनमे से शादी के बाद किसी की पति से तो किसी की ससुराल वालों से नहीं बनती थी |