Tuesday, October 17

मुंबई जैसे शहर में यह गरीब मसीहा स्टूडेंट को 5 रुपये में वड़ा पाव बेचता है :True Mumbaikar, satish gupta, 5 Rupees Vada Pav Wala.

आज की महंगाई के दौर में इंसान अपना पेट पाल ले यही बड़ी  है | Satish Gupta एक ऐसे शख्स है जिन्होंने अपना बचपन, जवानी और बुढ़ापा भी गरीबी में गुजार रहे हैं | लेकिन कभी हिम्मत नहीं हारी | आज इतनी गरीबी को देखने के बाद बच्चो के चेहरे पर ख़ुशी देखने के लिए मात्रा 5 रूपये में वड़ा पाव बेचता है | Know about Satish Gupta – 5 Rupees Vada Pav Wala.

True Mumbaikar:-
असली मायने में तो Satish Gupta एक True Mumbaikar है | उनका कहना है कि जो हौसले और मेहनत के दम पर प्रयास करते हैं वो मुंबई जैसे शहर में भी रहकर ख़ुशी से जीवन गुजार सकते हैं | गरीबी को उन्होंने बहुत करीब से देखा है | इसलिए गरीबी को समझते हुए लोगों को कम दाम पर उन्हें अपना वड़ा पाव खिला देते हैं | ऐसा करने से उन्हें बहुत ख़ुशी मिलती है |
5 Rupees Vada Pav Wala
क्या था और अब क्या है इनके पास :-
5 Rupees Vada Pav Wala, Satish Gupta का कहना है कि मुंबई एक अच्छी और सुन्दर सिटी है | Satish Gupta एक हाफ चड्ढे ( short paint ) में मुंबई आये थे और आज फुल पैंट शर्ट में रहते हैं | कई बार शुरुआती के दिनों में उन्हें और उनकी पत्नी को सूखी रोटी, नमक, मिर्च के साथ खाकर रहना पड़ता था | कई अच्छे बुरे दिन देखने को मिला है | बारिश के दिनों में जहां वह रहते थे उस छत से पानी टपकते रहता था | अपने बच्चो को पन्नी से लपेट कर पानी से बचत करते थे| उनके पूरे घर में पानी भर जाता था | पर आज भगवान की दया और मेहनत के दम पर उनके पास जीवन की सभी आवश्यक चीजें हैं | जैसे कि मकान, टीवी, फ्रिज, स्कूटी, अच्छा खाना और एक खुशहाल परिवार |

गरीबी को दूर करने का पहल :-
Satish Gupta is selling Vada Paw in 5 Rs in Mumbai to all student. it does not matter from which schools they belong to. उनका कहना है कि जितनी गरीबी हमने झेली है और जिस तरह से भूखे रहकर जिंदगी गुजारी है, वैसा किसी और को न रहना पड़े | हमारे दर पर आने वाला कभी भूखे पेट न जाये | इसलिए जिनके पास पैसे हैं उन्हें सही दाम 10 रूपये में एक वड़ा पाव देते हैं | पर बच्चों को ये सोचकर कि सकता है उनके माँ बाप भी पैसों से कमजोर हैं इसलिए 5 रुपये में ही दे देते है |
vada paw in 5 rupees

ऐसा नेक काम दुनिया में कुछ ही लोग कर सकते हैं | इसके लिए बड़ा जिगर चाहिए होता है | ऐसे दरियादिली इंसान को हमारा सलाम है |

3 Comments