Wednesday, December 13

Tag: health

ब्रेस्ट कैंसर, जोड़ो में दर्द, पथरी आदि जैसे बेमारियों में बथुआ साग है लाभकारी !

ब्रेस्ट कैंसर, जोड़ो में दर्द, पथरी आदि जैसे बेमारियों में बथुआ साग है लाभकारी !

All, Health
आप बचपन में जब अपने गांव के खेतो में जाते होंगे तो आप देखते होंगे की खेत में कई महिलाये खेत  में उपजे छोटे छोटे बथुआ को तोड़ तोड़ कर अपने झोले में इकठ्ठा कर रही है क्या कभी अपने ये जानने की कोशिश की है की बथुआ मनुष्य की सेहत के लिए कितना फायदेमंद है। शायद कभी नही की होगी गलती से अगर आप उनसे पूछें होंगे की इसका क्या होगा तो जवाब मिला होगा की बथुआ का साग बनता है। कुछ लोग जो की आज के नोजवान है उन्हें तो साग पसंद ही नही आता क्योंकि उन्हें हॉटेल में खाना जो पसंद है खैर उन सब बातो को छोड़िये और जानते है की बथुआ हमारे सेहत के लिए कितना फायदेमंद हो सकता है। अगर आप नियमित रूप से बथुआ को अपने खाने में इस्तेमाल करते है तो ओके शरीर में खून की कमी कभी नही होगी। जब खून की कमी नही होगी तो आपको कभी ब्लड प्रेशर की शिकायत नही होगी और ब्लड प्रेसर की शिकायत नही होने के कारन आपको गुस्सा कम आएगा। बथुआ के नियमित
ज्यादा धुप अंडे को ज्यादा अच्छा बनाता है !

ज्यादा धुप अंडे को ज्यादा अच्छा बनाता है !

All, Health
आज हम आपको अंडे से जुडी कुछ दिलचस्प बाते बताने जा रहे है जिसे जानकर आपको हैरानी तो होगी लेकिन यही सच्चाई है। मुर्गियों के अंडे में विटामिन डी भरपूर मात्रा में पाए जाते है लेकिन आपको ये जानकर हैरानी होगी की धुप में रहने वाले मुर्गी के अंडे और पिंजरे में रहने वाले मुर्गी के अंडो में पिंजरे में रहने वाले अंडो के मुकाबले धुप में रहने वाले अंडे सेहत के लिए ज्यादा फायदेमंद होते है। यूके की रीडिंग यूनिवर्सिटी के मुताबिक 270 अंडो पर एक शोध किया गया। जिसमे पाया गया की धुप में रहने वाली मुर्गी के मुकाबले पिंजरे में रहने वाली मुर्गी के अंडो में विटामिन डी की मात्रा कम होती है। उन्होंने अपने शोध में पाया की धुप में रहने वाली मुर्गी खुले हवा और धुप में रहती है जिसके कारन दोनों में अंतर हो जाता है। आपको यह बात पता होनी चाहिए की एक आदमी को एक दिन में कम से कम 10 माइक्रोग्राम विटामिन डी की आवश्य
स्मार्टफोन का ज्यादा इस्तेमाल आपको बीमार बना सकता है जानिए कैसे ?

स्मार्टफोन का ज्यादा इस्तेमाल आपको बीमार बना सकता है जानिए कैसे ?

All, Did you know.?, Health
आज कल भारत में स्मार्टफोन का बाजार बहुत तेजी से आगे बढ़ रहा है। जानकारों के अनुसार पिछले कुछ सालो में स्मार्टफोन मार्केट में बहुत वृद्धि हुई है। e-Marketors के मुताबिक २०१३ में मात्र ७६ मिलियन भारतीय स्मार्टफोन का इस्तेमाल करते थे। अभी भारत में स्मार्टफोन इस्तेमाल करने वालो की संख्या २४३ मिलियन है। भारत में तेजी से बढ़ता स्मार्टफोन का बाजार एक मार्केट रिसर्च के मुताबिक २०१९ तक ३१७ मिलियन उपयोगकर्ता हो जायेंगे। ये आंकड़े मोबाइल बनाने वाली कंपनियों के लिए तो अच्छी है लेकिन जो व्यक्ति स्मार्टफोन इस्तेमाल करता है उसके लिए नुकसानदायक है लेकिन कैसें हम आपको बताते है। कुछ लोग सोते जागते स्मार्टफोन के साथ सोते है और स्मार्टफोन के साथ ही उठते है। लेकिन उन्हें इस बात का पता ही नही चलता की वो कब मोबाइल फ़ोन के लत के शिकार हो गए होते है। क्योंकि एक रिचर्स के मुताबिक मोबाइल के ज्यादा इस्तेमाल से मनुष्य क
प्लास्टिक का ज्यादा इस्तेमाल आपको कैंसर से पीड़ित कर सकता है जानिये कैसे ?

प्लास्टिक का ज्यादा इस्तेमाल आपको कैंसर से पीड़ित कर सकता है जानिये कैसे ?

All
सेहत के लिए हानिकारक  क्या आपको पता है की जिस प्लास्टिक से बने सामान का इस्तेमाल आप पुरे दिन में लगभग सुबह से शाम तक करते है वो आपके सेहत के लिए कितना खतरनाक है इसका ज्यादा इस्तेमाल आपको कैंसर की बीमारी से पीड़ित कर सकता है। आम तौर पर जो प्लास्टिक इस्तेमाल होते है उसमे Endocrine Disrupting Chemicals (EDC) पाए जाते है जो आपको कैंसर, डाइबिटीज़, मोटापा,  जैसे बड़ी बिमारिओ को निमंत्रण देने के लिए काफी ही नही बल्कि बहुत काफी है आपके सोचने की शक्ति को प्रभावित करते है  न्यूयॉर्क के एक मेडिकल रिचर्स सेंटर के मुताबिक ये केमिकल धीरे धीरे आपके शरीर के अंदर जा रहा है और जिससे आपके सोचने की शक्ति भी प्रभावित हो सकती है मतलब अगर आप प्लास्टिक का इस्तेमाल ज्यादा करते है तो आपको सतर्क हो जाना चाहिए क्योंकि ये आपके लिये हानिकारक के साथ साथ बहुत खतरनाक भी है। 500 सालो के बाद भी पूरी तरह नष्ट नही ह
क्या आपको भी ऐसा लगता है कि कब्ज होने के यही कारन है….

क्या आपको भी ऐसा लगता है कि कब्ज होने के यही कारन है….

All, Did you know.?, Health
कब्ज या कॉन्स्टिपेशन एक ऐसी परेशानी है जो मनुष्य को कभी न कभी अपने जीवन में सामना करना पड़ा है । आजकल ये आम बात हो गयी  लिए। पर ज्यादा इग्नोर करना  हो सकता है ।     क्या आप सोच रहे हैं ? 1. दिन में दो बार फ्रेश होना जरूरी है ? यह जरूरी नहीं की आपको दिन में दो बार प्रेशर बने । हो सकता है आप दिन में एक बार या सप्ताह में 3 से 4 दिन ही जाते हों । यह आम बात है ।  2. कब्ज के कारण ( cause of constipation ) टॉक्सिंस के पैदा होने से कैंसर होता है ? फिलहाल अभी तक तो ऐसा कोई भी लक्षण नहीं पाया गया है जो इस बात की पुष्टि करता हो । 3. खाने में फाइबर्स की कमी के कारण ? यह जरूरी नहीं कि आपके खाने में फाइबर्स की कमी के कारण कब्ज की शिकायत होती है ,हो सकता है की आपको थाइरोइड ,मधुमेह या कोई अन्य बीमारी