Wednesday, October 18

भारत की सर्वाधिक शक्तिशाली और स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया की पहली महिला चेयरपर्सन : अरुंधती भट्टाचार्य

30 सितंबर 2013 को भारतीय स्टेट बैंक के चेयरपर्सन पद से रिटायर हुए श्री प्रतीप चौधरी का स्थान 7 अक्टूबर 2013 को अरुंधती भट्टाचार्य ( arundhati bhattacharya ) ने 24वे चेयरपर्सन का पद ग्रहण किया | महिलाओं के लिए वह बहुत प्रेरणा दायक और एस.बी.अाई. मे सर्वोच्च पद पर पहुंचने वाली वे प्रथम महिला है | बैंकिंग क्षेत्र मे अरुंधती भट्टाचार्य विश्वभर में एक ऐसी महिला हैं, जो फार्च्यून 500 लिस्ट में आने वाले किसी भी बैंक का नेतृत्व करती हैं।
 arundhati bhattacharya
बाल्यावस्था :-
अरुंधती का जन्म 18 मार्च 1956 को कोलकाता में हुअा था | उनके ( arundhati bhattacharya ) पिता प्रोद्युत कुमार मुखर्जी भिलाई के स्टील प्लांट में काम करते थे और माता कल्याणी मुखर्जी  होम्योपेथी कंसलटेंट थी | अरुंधती की सिबलिंग मे उनकी एकमात्र बहन अदिति बसु है |


शिक्षा :-
उन्होंने अपनी प्रारंभिक शिक्षा बोकारो से की थी | हालांकि शुरूवाती पढ़ाई मे वह अच्छी नही थी पर बाद मे इम्प्रूव करते हुए सेंट जेवियर्स के स्कूल मे एडमिशन लिया था और उसके बाद ग्रेजुएशन करने के लिए वापस कोलकाता चली गयी जहां पर उन्होंने जादवपुर यूनिवर्सिटी से  बी.ए. और एम.ए. कम्पलीट किया |

कैरियर :-

  • भारतीय स्टेट बैंक मे काम करते हुए अब तक ( 1977 से 2016 तक ) इन्हें 36 साल हो गए हैं | अरुंधती ने 1977 में प्रोबेशनरी ऑफिसर (P.O.) के रूप मे भारतीय स्टेट बैंक (एस.बी.आई.)  को जॉइन किया |
  • उसके बाद 2009 में भट्टाचार्य के करियर में एक नया अवसर अाया जब वह  भारतीय स्टेट बैंक में नए व्यवसायों के मुख्य महाप्रबंधक नियुक्त की गयीं |
  • 2014 में, फोर्ब्स ने अरुंधती भट्टाचार्य को दुनिया में 100 सबसे शक्तिशाली महिलाओं की सूची मे शामिल किया है | कहा जाता है कि दो शताब्दियों के इतिहास में इस बैंक के सर्वोच्च पद पर पहुंचने वाली वह प्रथम महिला हैं।
  • 30 सितंबर 2013 मे RBI के गवर्नर रघुराम राजनकी अध्यक्षता में बनी चयन समिति ने SBI के चेयरपर्सन के लिए अरुंधति का चयन किया|
 arundhati bhattacharya
विवाह :-
उनकी शादी प्रितीमोय भट्टाचार्य के साथ हुअा  जो कि एक इंजीनियर हैं | इनकी एक सुकृता नाम की बेटी है